सरधना छेत्र इकड़ी गांव में हुए खूनी संघर्ष में महिला की हुई मौत अन्य लोग हुए घायल

0

विनोद शर्मा की रिपोर्ट

सरधना के इकडी गांव में रविदास जयंती को लेकर सगे भाइयों के बीच हुई बैठक में पनपा विवाद खूनी संघर्ष तक पहुंच गया। मंगलवार शाम को इसी विवाद के चलते ताऊ के लड़कों ने चाचा के घर में घुसकर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। फायरिंग के बीच एक महिला की मौत हो गयी जबकि उसकी बेटी, बहु और बेटे घायल हो गए। घायलों को तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां से उन्हें मेरठ रेफर कर दिया गया। दरअसल रविदास जयंती को लेकर कई दिनों से गांव में दलित समाज की बैठक चल रही थी। इसी बैठक में दो सगे भाई शम्भू दयाल और गिरवर भी शामिल हो रहे थे। किसी बात को लेकर गिरवर पक्ष के लोग और शम्भू दयाल पक्ष के बीच विवाद हो गया। सोमवार शाम को इसी विवाद में गिरवर पक्ष के बेटों ने शम्भू की पिटाई भी कर दी। उसके बाद से दोनों के बीच तनाव बढ़ रहा था। मंगलवार शाम को अचानक गिरवर के बेटे कई हमलावरों के साथ शम्भू के घर में घुस गए और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में गोली लगने से शम्भू की पत्नी मुकेश की मौत हो गयी, जबकि उसका बेटा आदेश, बहु सोनिया और बेटी ममता घायल हो गए। सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर भर्ती किया गया। जहां से सभी को मेरठ रेफर कर दिया गया। वहीं मृतका मुकेश के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

इन चीफ विनोद शर्मा

Leave A Reply