कर्मचारियों की मांगों पर कोई सकारात्मक कार्यवाही निर्णय ना होने पर राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद बिजनौर अस्पताल में आंदोलनरत

0

बिजनौर से विनोद शर्मा की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कर्मचारियों की मांगों पर काफी समय से कोई सकारात्मक कार्रवाई/निर्णय न किए जाने से कर्मचारियों में भारी रोष व्याप्त है और आंदोलन को मजबूर हैं कर्मचारियों के हितों के कारण राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश आंदोलनरत है परिषद के द्वारा क्रमवत चलाए जा रहे आंदोलन में आज दिनांक 22-02-21को जिला चिकित्सालय बिजनौर , और जनपद बिजनौर के विभिन्न चिकित्सालयों में समस्त विभागों के कर्मचारियों ने काला फीता बांध कर अपना कार्य करते हुए सरकार के प्रति अपना विरोध प्रकट किया डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोशिएशन जनपद बिजनौर के जिला अध्यक्ष राजेश कुमार रवि ने कहा कि कोरोनावायरस महामारी में सरकारी कर्मचारियों ने अपनी जान पर खेलकर और जान गंवा कर भी देशसेवा की है और सरकार के हर आदेशानुसार कार्य करते हुए देशसेवा कर रहे हैं ऐसे में सरकार को कर्मचारियों की न्यायोचित मांगों को अतिशीघ्र पूरा करना चाहिए। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद बिजनौर के जिला अध्यक्ष गजेन्द्र शर्मा ने कहा विषम से विषम परिस्थितियों में सरकारी कर्मचारी ही कार्य कर अपने कर्तव्यों को पूरा करता है कर्मचारियों के दम पर ही सरकारे वाहवाही लूटती है। संविदा, ठेका प्रथा, एनपीएस आदि कर्मचारियों पर थोपकर उनका शोषण कर रही है। सरकार को तुरंत कर्मचारियों की मांगों को पूरा करना चाहिए। एस के अमोली, आंनद प्रकाश,राम सिंह,एन सी रुडोला,जे डी सकलानी, अशोक भंडारी, पुष्पेन्द्र सिंह, प्रदीप बेलवाल, मनोज शर्मा, संजीव कुमार , नीरज शर्मा, सुभाष सिंह,अमित भटनागर, राकेश चौहान, रजनी शर्मा,पदामावती,पुष्पा निगम, बबीता रानी, जसकरन कोर, ममता चौहान, दिग्विजय शाह, सलीम अहमद,वी के गुप्ता,हृर्देश सारस्वत, आदि उपस्थित रहे।

इन चीफ विनोद शर्मा

Leave A Reply