कोटद्वार के भाभर क्षैत्र में भूमि कब्जाने वाला मामला निकला फर्जी व्यवसाइयो ने कहा सत्य की हुई जीत

0

कोटद्वार से नितिन अग्रवाल की रिपोर्ट

कोटद्वार नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत मोटाढांक में अमित नाम के एक व्यक्ति ने कोटद्वार के नामचीन व्यापारियों पर अपनी भूमि कब्जाने का आरोप लगाया था।

जिस मामले ने खूब सुर्खियां बटोरी थी, लेकिन
इस मामले में कोर्ट ने विरोध कर रहे परिवार के विपक्ष
में फैसला सुनाया है। यह मामला विपक्ष की ओर से
सात न्यायालयों में सुना जा चुका है। इसके बाद अब
फैसला उनके पक्ष में आया है, जिन पर अवैध भूमि
कब्जाने का आरोप लगाया गया है।
मंगलवार को पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कोटद्वार के नामचीन व्यापारी अर्जुन सिंह बिष्ट, संतोष और योगेश अग्रवाल
ने बताया कि अवैध भूमि कब्जाने को लेकर उन पर लगे आरोप पूरी तरह झूठे है। उन्होंने आगे बताया की पूर्व में अमित की दी गयी तहरीर में शराब व्यापारी संतोष उर्फ संतू,
अर्जुन सिंह बिष्ट, संदीप बिष्ट, जेपी नैनवाल व योगेश
सहित 10-15 अज्ञात लोगों से जानमाल का खतरा
होने की आशंका भी जताई थी। यह सभी आरोप गलत और बेबुनियादी है।
उन्होंने आगे बताया कि अमित का तहरीर देने का उद्देश्य सिर्फ उक्त भूमि में कब्जा करने का था इन्होंने कई न्यायालयों का दरवाजा खटखटाया, लेकिन उनके पक्ष में कुछ भी नहीं आया।
जिससे बोखला कर दूसरे पक्ष ने धरना प्रदर्शन का
ड्रामा रचा। उन्होंने बताया कि 14 वर्षों से इस जमीन
की रजिस्ट्री हो रखी है। अब इस जमीन को लेकर कोई
भी मामला किसी न्यायालय में विचाराधीन नहीं है।

इन चीफ विनोद शर्मा

Leave A Reply