स्योहारा से संजय शर्मा की रिपोर्ट✍️

स्योहारा। नगर के मुख्य बाजार में एक कीमती जमीन पर उस समय विवाद हो गया जब रियासत की रानी कामिनी सिंह ने जमीन पर अपना स्वामित्व बताते हुये चाहरदिवारी शुरू कर दी। बाजार के कुछ दुकानदारों ने विरोध जताते हुये काम बंद कराने का प्रयास किया। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मामला शांत कराने का प्रयास किया।
नगर के जुमरात के बाजार में जामा मस्जिद के सामने एक खाली प्लाट पड़ा हुआ है जिस पर एक तरफ नीलू पुत्र सुरेश चंद का चार दशक से चाय समोसे का खोखा रखा हुआ है। शनिवार की सुबह रियासत की रानी कामिनी सिंह पत्नी स्व. कुंवर शैलराज सिंह ने उक्त जमीन पर अपना स्वामित्व बताते हुये जमीन की चाहर दीवारी करनी शुरू कर दी। निर्माण की सूचना पर बाजार के कुछ दुकानदार मौके पर पहुंचे और निर्माण कार्य बंद कराते हुये मजदूरों को भगा दिया। जिस पर रानी कामिनी व बाजार के कुछ दुकानदार आमने सामने आ गये और विवाद बढ़ गया। रानी कामिनी सिंह का कहना है कि उक्त जमीन उनकी रियासत की है जिस पर उनका अधिकार है। जबकि बाजार के दुकानदारों का कहना है कि ये जमीन सेवा समिति रजिस्टर्ड के नाम है जो नगर पालिका परिषद में दर्ज है। सूचना मिलने पर प्रभारी निरीक्षक राजीव चौधरी मौके पर पहुंचे और मामला शांत कराया। थाना प्रभारी निरीक्षक राजीव चौधरी का कहना है कि रानी कामिनी सिंह ने तहरीर देकर कुछ दुकानदारों के विरुद्ध मारपीट, अवैध कब्जा करने का प्रयास व उनका सामान उठा कर लेजाने का आरोप लगाया है। मामले की जांच की जा रही है।

Published by 24 न्यूज इन इंडिया

वेब पोर्टल चैनल इन चीफ विनोद शर्मा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *